गर्भावस्था में गैस, पेट फूलने के कारण, इलाज

गर्भावस्था में गैस बनना और पेट फूलना, एसिडिटी, दर्द, समस्या, कारण, घरेलु उपचार, टिप्स, आहार (Gas problem during pregnancy, Home remedies, Symptoms, tips in hindi)

प्रेगनेंसी में गैस, पेट फूलना, टाइट होने की समस्या बहुत आम है। लेकिन अगर ये समस्या बहुत अधिक बढ़ रही है तो समय रहते इसकी ओर ध्यान देना बहुत जरूरी है। अगर प्रेग्नेंसी के पहले आपको गैस, कब्ज, एसिडिटी की समस्या कभी नही हुई है तो भी गर्भ के दौरान यह समस्या बहुत आम है। इस दौरान पाचन तंत्र पहले जैसा नहीं रह जाता है। इसलिए पहले के लाइफ स्टाइल को अब बदलना होगा। आज हम अपने आर्टिकल में आपको इसी समस्या का कारण और निवारण भी बताएंगे। 

gas problem in pregnency

पेट में गैस होने का कारण 

  • गैस होने का कारण सभी मनुष्यों में समान होता है। पहला जब हम डकार लेते है तो हवा को निगल लेते है जिसके कारण गैस होती है। 
  • दूसरा कारण जब बड़ी कोई खाद्य हजम नही हो पाता और वहां पर जो जीवाणु होता है वो उसे पचाने की कोशिश में उसे बारीक टुकड़ों में बांट देता है।

आप भी अगर इस बात को लेकर परेशां है कि शादी के बाद ससुराल में कैसे रहना चाहिए तो इस आर्टिकल को जरुर पढ़ें.

प्रेगनेंसी में गैस क्यों बनती है

  • प्रेगनेंसी में आम दिनों की तुलना में गैस ज्यादा होती है क्योंकि इस दौरान महिला के शरीर में प्रोजेस्टीरोन हार्मोन बहुत अधिक मात्रा में उपस्थित होते है। इसलिए पूरे शरीर की मांसपेशियां और पाचन करने वाली मासपेशियां बहुत ज्यादा एक्टिव रहती है। इसलिए गर्भावस्था में गैस की परेशानी बहुत अधिक होती है। 
  • जब औरत गर्भवती होती है तो उसकी पाचन प्रक्रिया स्लो हो जाती है, क्योंकि उसके पेट में उपस्थित बच्चा पेट में अपनी जगह बना लेता है, और अगर ज्यादा हेवी खाना खाया है तो यह समस्या और अधिक बढ़ जाती है। 
  • इसके अलावा अगर आप खाना को बहुत जल्दी जल्दी खाते हो तो भी यह समस्या हो सकती है। इसलिए खाना को आराम से चबा चबा कर खाए। 
  • अगर आप कुछ भी शारीरिक गतिविधि जैसे व्यायाम या वॉक नही करते है तो भी यह समस्या हो सकती है। 
  • प्रेगनेंसी में वजन बहुत तेजी से बढ़ता है, यह भी एक कारण है कि आपको गैस की समस्या हो रही है। 

गर्भावस्था में कैल्शियम की कमी के लक्षण और उसके उपाय जानने के लिए इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें.

प्रेगनेंसी में गैस, पेट फूलने की समस्या के लिए टिप्स

  • आप अपने खानपान में बदलाव लाकर इस समस्या को कम कर सकते है। आपको कुछ दिन अपने खान पान पर ध्यान देना होगा कि किन चीजों को खाने से आपको यह समस्या ज्यादा हुई है। 
  • आप उन खाद्य पदार्थों की लिस्ट बनाएं। अब मैं ये बिलकुल नहीं कहूंगी कि आप इन सभी चीजों को अपनी डाइट से हटा दे। क्युकी ऐसा करने से बहुत सारे पोषक तत्व आपको नही मिलेंगे। इसलिए आप थोड़ा ध्यान दे। 
  • जैसे एक साथ कभी भी सभी गैस करने वाली चीजे न खाए। 
  • अगर आप दिन में एक मील में गैस वाली चीजें खा रही है तो दूसरी मील बहुत लाइट रखें। 
  • आपको अपने खान पान से समझना होगा कि किस खाने की चीज से आपको सबसे दिक्कत हो रही है। उसे फिर आप धीरे धीरे कम कर सकते है और उसकी जगह किसी और पदार्थ को शामिल कर सकते है। इसके लिए आप एक डायरी का सहारा ले, इससे आपकी फूड हैबिट की सारी जानकारी एक जगह इक्कठी हो जायेगी।
  • अपने खाने में केला, अंगूर, गाजर, ककड़ी, अदरक, पालक, टमाटर आदि जो कम फोडमैप वाले पदार्थ है उनका सेवन अधिक करे। 
  • फाइबर वाले खाद्य पदार्थ का सेवन अधिक से अधिक करे। 
  • आप खाना को आराम से चबा चबा कर खाएं।
  • देर रात खाने से बचे, समय पर खाएं। एक साथ ज्यादा खाने से अच्छा है आप थोड़ा थोड़ा कर के शॉर्ट मील 4-5 बार खाएं।
  • थोड़ा बहुत हल्का फुल्का व्यायाम या वॉक अपनी दिनचर्या में शामिल करे। 
  • किसी भी चीज का तनाव न ले, खुश रहें। प्राणायाम करे। 
  • कोल्ड्रिंक या अधिक शक्कर वाले तरल पदार्थ से दूरी बनाए। 
  • पानी अधिक से अधिक पिएं। पानी ही है जो आपकी बॉडी से गंदगी निकालकर आपकी बॉडी को डीटॉक्स करता है। पानी से शरीर में होने वाली अन्य समस्याएं भी दूर होती है। 
  • तला हुआ फ्राइड भोजन से दूरी बनाएं। अगर खाना पसंद ही है तो दिन के समय में खाएं ताकि उसके बाद आप थोड़ी बहुत चहलकर्मी भी कर सकें। 
  • कुछ भी पीने के लिए स्ट्रॉ का यूज नहीं करे, इससे हवा आपके अंदर जायेगी। 
  • स्मोकिंग को बिल्कुल बंद कर दें। 
  • गैस के लिए बाजार में बहुत सी दवाई भी उपलब्ध है लेकिन इनका इस्तेमाल डॉक्टर की सलाह पर ही करना चाहिए। 

गर्भवती महिलाओं के लिए खास टिप्स आपको दे रहे है, आप ध्यान से जरुर पढ़ें.

गर्भावस्था में गैस पेट फूलने के घरेलू उपचार 

प्रेगनेंसी के दौरान कोई भी अन्य बीमारी होने पर हम जल्दी जल्दी दवाई नही ले सकते। क्युकी दवाई हमारे शरीर, बच्चे के लिए हानिकारक होती है। आज हम आपको इस समस्या से निपटने के लिए घरेलू उपचार बता रहे है, जिसे आप आसानी से घरेलू सामान के द्वारा कर सकते है। 

  • मेथी दाना को रात भर पानी में भिगोकर रखें, फिर उस पानी को अगले दिन पी लें।
  • एक कप पानी में एक छोटा दाल चीनी का टुकड़ा डालकर उबालें, फिर उसे थोड़ा ठंडा कर उसमें शहद डाल कर पी लें।
  • गैस में इलायची भी अच्छा काम करती है। आप खाने के बाद ऐसे ही इलायची ले सकते है या फिर 1 कप पानी में इलायची डालकर उबालें और उस पानी को पी ले, जल्द आराम मिलेगा। 
  • एक कप गर्म पानी में धनिया का पाउडर डालें, और उसे कुछ देर रख दे। फिर इस पानी को पिएं आराम मिलेगा। 
  • अदरक तो गैस के लिए सबसे अच्छा इलाज है। एक चम्मच में अदरक का रस निकाल ले फिर उसमें थोड़ी सी शहद मिलाकर उसे खाएं। 

Note – हमने प्रेगनेंसी में गैस की समस्या के लिए कुछ उपचार कारण बताएं है। लेकिन इसका इस्तेमाल आप डॉक्टर के परामर्श में ही करे। किसी भी नुकसान हानि के लिए हमारी टीम जिम्मेदार नहीं है। 

FAQ –

गर्भवती महिला का पेट क्यों फूलता है?

पेट में गैस बनने और पानी की कमी से प्रेगनेंसी में पेट फूलने की समस्या बहुत अधिक महिलाओं को होती है। 

गर्भवती महिला के पेट में गैस क्यों बनता है?

कब्ज, पाचन तंत्र में खराबी के कारण गैस होती है। इसका मुख्य कारण खान पान का सही न होना है। गर्भवती महिला के शरीर में हार्मोन का स्त्राव अधिक होता है इसलिए भी गैस की समस्या होती है। 

गर्भवती महिला को गैस बने तो क्या करना चाहिए?

पानी अधिक से अधिक पिए। गैस वाले खाद्य पदार्थों से दूरी बनाए। 

अन्य पढ़े

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top